Thursday, August 25, 2016

लड़कियों को समझने के लिए कुछ विशेष टिप्स

जिस तरह गाड़ी लेना तो आसान होता है लेकिन उसकी मैंटेन रखना हर किसी के बस की बात नहीं होती उसी तरह गर्लफ्रेंड बनाना तो फिर भी आसान होता है लेकिन उसे समझ पाना बहुत मुश्किल. लड़कियों को समझना दुनिया के सबसे मुश्किल कामों में शुमार किया जाता है. माना जाता है भगवान भी अपनी इस कृति को कभी समझ नहीं पाए हैं.

जब बड़े-बड़े लोग लड़ॅकियों को नहीं समझ पाए तो हम भला किस खेत की मूली है लेकिन अगर आपकी भी कोई गर्लफ्रेंड है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं. मैं आपकी पूरी तो नही पर हां मैं कुछ ऐसे टिप्स दे सकता हैं जो गर्लफ्रेंड को समझने में आपकी बहुत मदद करेंगे.

शांत रहना
अगर आपकी गर्लफ्रेंड चुप है, खामोश है तो यह मत सोचिए कि वह थोड़ा शांत रहना चाहती है, दरअसल इस समय उसके दिमाग में बहुत बड़ा तुफान उठ रहा होता है और वह कुछ तुफानी सोच रही होती है.

आई एम फाइन (I am fine )
यह एक शब्द है जिसका मतलब हर लड़का यही लगता है उसकी प्रेमिका सही है लेकिन दरअसल यह सबसे बड़ा सूचक है कि आपकी गर्लफ्रेंड कुछ परेशान है और उसका मन आपका सर फोड़ने का कर रहा है. लड़कियों की डिकेश्नरी में आई एम फाइन इन तीन शब्दों का असली मतलब होता है “अब लड़ाई बंद करो मैं सही हूं तुम गलत”.

बस पांच मिनट
देखिए भइया अगर लड़की ने आपको तैयार होने के लिए पांच मिनट मांगे हैं तो इसका मतलब है आधा घंटा और अगर आपको मैच देखने के लिए पांच मिनट दिए हैं तो सिर्फ पांच मिनट, अगर पांच मिनट से छ मिनट भी हुए ना तो आपका पत्ता कट.

छोड़ों जाओ
अक्सर यह दो शब्द लड़ाई होने के बाद या किसी अप्रिय स्थिति में ही बोले जाते हैं लेकिन इसका मतलब यह नही है कि आप चले जाएं. इसका यह श्बद डराने के लिए बोला जाता है और कभी ऐसा करना नहीं चाहिए. लड़ाई या किसी ऐसी स्थिति मॆं जब गर्लफ्रेंड कहें छोड़ों जाओ तो भईया इसका मतलब है अपनी गलती मानो और कभी मत जाओ.

1 comments so far


EmoticonEmoticon